Wednesday, April 12, 2017

जब अमेरिका डरता है तो शुरू होती है विचारों पर निगरानी

जब अमेरिका डरता है तो शुरू होती है विचारों पर निगरानी: जब अमेरिका डरता है,  किसी भी घर की शांति गुम हो जाती है.
जब अमेरिका डरता है, अँधेरे में बहती हवा संदिग्ध बन जाती है.

.....आगे पढ़ें ....

जब अमेरिका डरता है तो शुरू होती है विचारों पर निगरानी

दरोगाजी ने नाम पूछा, फिर बोले साले मुसलमान हैं, कटुआ हैं, साले गाय काटते हैं, मारो सालों को

दरोगाजी ने नाम पूछा, फिर बोले साले मुसलमान हैं, कटुआ हैं, साले गाय काटते हैं, मारो सालों को

योगी के मुख्यमंत्री बनते ही प्रदेश की पुलिस बजरंगदल-हिंदू युवा वाहिनी की तरह व्यवहार करने लगी है। जिससे पुलिस की अपनी विश्वसनियता ही खतरे में पड़ गई है।...

सुरंग तो खुल गई पर किस्मत नहीं

सुरंग तो खुल गई पर किस्मत नहीं

एशिया की सबसे लंबी सुरंग राष्ट्र के नाम समर्पित करते हुए प्रधानमंत्री कहते हैं कि
"एक तरफ कुछ भटके हुए नौजवान पत्थर मारने में लगे हुए हैं तो दूसरी तरफ उसी कश्मीर के युवा पत्थर काटकर कश्मीर की किस्मत बदलने में व्यस्त हैं"।
आगे पढ़ें

सुरंग तो खुल गई पर किस्मत नहीं

Sunday, April 9, 2017

अत्याचार जब बढ़ता है तो मजलूमों एकता बढ़ती हैः मौलाना सज्जाद नोमानी

हिन्दू युवा वाहिनी की लठैत बन गयी है यूपी
पुलिस
,
सरकार के संरक्षण में हो रहे ईसाइयों पर हमले
रिहाई मंच
क्या दलाई लामा बदल चुके हैं? तिब्बत आंदोलन
में सीआईए को अब दिलचस्पी क्यों नहीं
?
समझें सीरिया पर अमरीकी हमले के समर्थक उनका
नंबर भी आने वाला है - हसन रुहानी
सीरिया पर हमले के बाद रूस और अमरीका
आमने-सामने
,
अमरीका पर आईएस की मदद का आरोप
सीरिया की हवाई छावनी पर अमेरिका के मिज़ाइल
हमले के विरोध में सड़कों पर उतरे लोग
हिन्दू युवा वाहिनी की लठैत बन गयी है यूपी
पुलिस
,
सरकार के संरक्षण में हो रहे ईसाइयों पर हमले
रिहाई मंच
मिलिए 13 साल के पाकिस्तानी हैकर से, गूगल-माइक्रोसॉफ्ट
जैसी बड़ी कंपनियां लेती हैं इसकी मदद
पाकिस्तान में गिरफ्तार हुई थीं सारा खान ?
ऐसा लगता है कि पुरुष केन्द्रित समाज और सिनेमा
में अब कुछ महिलाएँ सेंध मार रही हैं और सेंध मारने के नियम को भी तोड़ रही हैं।.
नई स्वास्थ्य नीति : स्वास्थ्य सेवाओं को
कॉरपोरेट घरानों को बेचने की साजिश
मोदी का नया भारत : कितना नया, कितना
पुराना और कितना जुमला
शेक्सपीअर ट्वेल्थ नाइट के कथापात्र अब भारत
में निर्णायक भूमिका में हैं
गाय के बराबर अधिकार तो मिलें, नागरिक-मानवाधिकार
हों या न हों ! गोभक्तों में तब्दील है पूरा देश
अत्याचार जब बढ़ता है तो मजलूमों एकता बढ़ती
हैः मौलाना सज्जाद नोमानी
जो भारत सारे जहां से अच्छा था, जिस
लोकतंत्र पर हमें नाज़ था आज वह भारत टूटता हुआ दिख रहा है।



Wednesday, March 29, 2017

कांशीरामवाद पर हेडगेवारवाद की निर्णायक विजय

कांशीरामवाद पर हेडगेवारवाद की निर्णायक विजय: भाजपा की वर्तमान सफलता मोदी–शाह से बढ़कर हेडगेवारवाद की विजय है. कैसे! इसे जानने के लिए 1925 के दिनों के पन्ने पलटने पड़ेंगे.

ReadMoreon

http://www.hastakshep.com/opinion-debate-hindi/kanshiram-hedgewar-13698

जेएनयू को बंद करने के रास्ते पर अघोषित तौर पर कदम बढ़ा दिया मोदी सरकार ने

जेएनयू को बंद करने के रास्ते पर अघोषित तौर पर कदम बढ़ा दिया मोदी सरकार ने: मोदी सरकार यदि अपने मकसद में कामयाब हो गई तो जो छात्र -छात्रायें जेएनयू में प्रवेश लेकर पीएचडी /शोध/एमफिल करने के सपने देखते हैं, उनके सपने कभी पूरे नहीं होंगे।

Read More on

http://www.hastakshep.com/opinion-debate-hindi/modi-government-jnu-admission-phd-research-mphil-seat-cut-13699

कांशीरामवाद पर हेडगेवारवाद की निर्णायक विजय

कांशीरामवाद पर हेडगेवारवाद की निर्णायक विजय: भाजपा की वर्तमान सफलता मोदी–शाह से बढ़कर हेडगेवारवाद की विजय है. कैसे! इसे जानने के लिए 1925 के दिनों के पन्ने पलटने पड़ेंगे.

...... ReadMore on

http://www.hastakshep.com/opinion-debate-hindi/kanshiram-hedgewar-13698

UP CM ADITYANATH HAILED AS ANANDMATH SANYASI: ANANDMATH PREACHED CLEANSING OF MUSLIMS & HAILED THE BRITISH RULE!

UP CM ADITYANATH HAILED AS ANANDMATH SANYASI: ANANDMATH PREACHED CLEANSING OF MUSLIMS & HAILED THE BRITISH RULE!: Bankim, the author of Anandmath, was appointed directly to the post of Deputy Magistrate in the year 1858 by the British Lieutenant Governor of Bengal. He was the first Indian to be appointed to such...

It is unfortunate that a novel which played prominent role in fracturing the united freedom struggle against the British rulers, is being resurrected. The UP victory of RSS/BJP (securing only 39.7% of the polled votes) is being celebrated as the victory of Santan Sena over Muslims in Anandmath. India seems to be standing at a cross-road; to continue on the path of a democratic-secular polity or embark on the path of Anandmath is the greatest challenge after Independence. .... Read Moreon

http://www.hastakshep.com/englishopinion/debate-up-cm-adityanath-hailed-as-anandmath-sanyasi--13696


Sunday, March 26, 2017

गोवा में बीफ बिकता है और उप्र में बीफ बंदी, सरकार दोनों जगह भाजपा की ही है

गोवा में बीफ बिकता है और उप्र में बीफ बंदी, सरकार दोनों जगह भाजपा की ही है: छोटे स्लाटर हाउस बंद होंगे, लेकिन बीफ की बड़ी कंपनियां अपना काम करती रहेंगी। यानी छोटे कारोबारियों की छुट्टी और कारपोरेट मुनाफा कमाएंगे।जब से भाजपा की केंद्र में सरकार बनी है बीफ निर्यात डेढ़ गुना हो..

गोवा में बीफ बिकता है और उप्र में बीफ बंदी, सरकार दोनों जगह भाजपा की ही है .....छोटे स्लाटर हाउस तो बंद होंगे, लेकिन बीफ की बड़ी कंपनियां अपना काम करती रहेंगी। मतलब यह कि छोटे कारोबारियों की छुट्टी हो जाएगी और कारपोरेट ज़्यादा मुनाफा कमा सकेंगे।
https://t.co/dU1xESzHGL #BJP #SuperYogi #YogiAdityanath #YogiSarkar #UP #Slaughterhouse

Friday, January 27, 2017

शंकर गुहा नियोगी : नई आर्थिक नीति के पहले शहीद

शंकर गुहा नियोगी : नई आर्थिक नीति के पहले शहीद: हमें यह सवाल उठाना होगा कि सही आवास,  स्कूल,  चिकित्सा,  सफाई,  जल,  इत्यादि स्वस्थ जीवन के लिए जरुरी व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी मालिकान लें।



----- Read more

शंकर गुहा नियोगी : नई आर्थिक नीति के पहले शहीद

Wednesday, October 23, 2013

कविता भोलेपन और मासूमियत की रक्षा के लिये तैयार एक समझदार प्रयास

किसी अच्छी कविता का इस्तेमाल कोई आंदोलन करना चाहे तो कर ले लेकिन कोई कवि कविता का उपयोग सोचकर तब तक माँग के आधार पर अच्छी कविता नहीं लिख सकता जब तक कि वह जीवन में भी उसके साथ न जुड़ा हो। इसलिये कविता को उपयोगितावादी नज़रिये से देखना उचित नहीं है।
Read More .....
कविता भोलेपन और मासूमियत की रक्षा के लिये तैयार एक समझदार प्रयास

Sunday, July 21, 2013

रमन के दामन पर लगे दाग़, काँग्रेस ने माँगा इस्तीफा

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह पर रिश्वत लेने का आरोप लगा है

पर इससे बेखबर संघ प्रमुख भागवत को लगता है कि

पिछले दो सालों में भारत की साख गिरी है।

 चुनाव मिशन 2014 में जुटी भाजपा के मँसूबों पर पानी फेरने की तैयारी में लगी काँग्रेस की कोशिशें सफल होती दिख रही हैं। लोकसभा चुनाव 2014 की तैयारियों में जुटी काँग्रेस ने एक सीडी जारी कर रमन सिंह और उनके चार मन्त्रियों पर रिश्वत लेने का आरोप लगाया है।
आगे पढ़ें -

गरीब के बच्चे की रोटी में ज़हर न मिलने पाये

पने देश में राजनीतिक विमर्श की भाषा अजीब शकल अख्तियार कर रही है। विकास के कुछ माडलों की बातें की जा रही हैं। हालाँकि जिन राज्यों के मॉडल को विकास का उदाहरण बताया जाता है वे पूरी तरह से नाकाम मॉडल हैं लेकिन बातों को कौन रोक सकता है। गुजरात मॉडल की असफलता पर पूरी दुनिया में चर्चा हो रही है। नीतीश कुमार ने अपने आपको गुजरात के मुख्यमंत्री से ज्यादा काबिल बताया है और  विकास का बिहार मॉडल चर्चा के मैदान में डाल दिया है। यह भी उतना ही नाकाम है जितना गुजरात मॉडल। …और अब तो इतने बच्चों की मौत के बाद नीतीश कुमार को भी अपने गुजरात के साथी की तरह विकास के मॉडल की बात करना बन्द कर देना चाहिए और अपनी राजनीति को ऐसी दिशा में मोड़ने की कोशिश करनी चाहिए जिस से एक कल्याणकारी राज्य की स्थापना की दिशा में ज़रूरी क़दम उठाया जा सके।

आगे पढ़ें -

गरीब के बच्चे की रोटी में ज़हर न मिलने पाये

किस तरह का लोकतंत्र बना रहे हैं जहां बेगुनाह जेलों में और गुनहगारों को सरकारों का संरक्षण

हम किस तरह का लोकतंत्र बना रहे हैं जहां बेगुनाह जेलों में और गुनहगारों को सरकारों का संरक्षण

जेलों में बंद बेगुनाह, मुख्यमंत्री को निमेष कमीशन पर कार्रवाई के लिए पत्र लिखें- रिहाई मंच

22 जुलाई को सीपीआई (एमएल) के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य रिहाई मंच के धरने के समर्थन में आएंगे

धरने के 61 वें दिन क्रमिक उपवास पर सामाजिक कार्यकर्ता आलोक अग्निहोत्री और बब्लू यादव बैठे

Sunday, March 17, 2013

दलित मुक्ति को अंजाम तक पहुँचाने के लिए अम्बेडकर से आगे जाना होगा

 मार्क्सवाद और अम्बेडकरवाद को मिलाने की बातें हो रही हैं लेकिन वास्तव में इन दोनों विचारधाराओं में बुनियादी अन्तर है।..............read more
http://hastakshep.com/?p=30536
दलित मुक्ति को अंजाम तक पहुँचाने के लिए अम्बेडकर से आगे जाना होगा

पत्रकारिता में भावना बनाम तर्कबुद्धि

 किसी भी सामाजिक समस्या से जुड़ी हुयी घटना से तात्कालिक रिपोर्टिंग करना एक बात है, लेकिन उसके निराकरण के लिए कार्य-कारण पद्धति विकसित करना बिल्कुल दूसरी।...........read more
http://hastakshep.com/?p=30518
पत्रकारिता में भावना बनाम तर्कबुद्धि

Saturday, March 16, 2013

ब्राह्मणवादसे नफरत के कारण अंबेडकर उपनिवेशवाद की साजिश समझे नहीं

 पूँजीवाद ने जातिगत श्रम विभाजन और खान-पान की वर्जनाओं को तोड़ दिया है लेकिन सजातीय विवाह की प्रथा को कायम रखा है,क्योंकि पूँजीवाद से इसका कोई बैर नहीं है।..............read more
http://hastakshep.com/?p=30489
ब्राह्मणवादसे नफरत के कारण अंबेडकर उपनिवेशवाद की साजिश समझे नहीं

Thursday, March 14, 2013

अंबेडकर के सारे प्रयोग एक ‘‘महान विफलता’’ में समाप्त हुये- तेलतुंबड़े

अंबेडकर ने मार्क्सवाद का गहन अध्ययन नहीं किया था, लेकिन उनके मन में उसके प्रति गहरा आकर्षण था।................read more
http://hastakshep.com/?p=30480
अंबेडकर के सारे प्रयोग एक ‘‘महान विफलता’’ में समाप्त हुये- तेलतुंबड़े

इमाम हुसैन की तरह शहीद हुये मरहूम डीएसपी जियाउल हक


.................इस्लामी तवारीख इस बात का गवाह है कि ठीक इसी तरह कूफा इलाका के लोगों ने इमाम हुसैन को नैनवा गांव में साजिशपूर्ण तरीके से बुलाया था और बुलाकर खुद भाग गये थे और जुल्मी यजीद के लोगों ने इमाम हुसैन को तड़पाकर कर्बला के मैदान में मारा था। ...............read  more
http://hastakshep.com/?p=30465

इमाम हुसैन की तरह शहीद हुये मरहूम डीएसपी जियाउल हक

दिल्ली नहीं यूपी देखो अखिलेश भैया

 समाजवादी सरकार के कार्यकाल में शायद ही कोई ऐसा जुर्म हो जो इस सरकार की सफलता में रोड़ा न बना हो।............read more
http://hastakshep.com/?p=30471
दिल्ली नहीं यूपी देखो अखिलेश भैया

फिर ना बन जाये शेहला काण्ड! 3 दिन से लापता आरटीआई कार्यकर्ता


सात महीने में अखिलेश के उत्तम प्रदेश में हत्या- 273, अपहरण- 2680, लूट- 1812, बलात्कार- 1134, डकैती 483, साम्प्रदायिक दंगे- 9 का कीर्तिमान स्थापित करने वाली सरकार में यादव और आंकड़ों में अल्पसंख्यक मुस्लिम ही साजिश का शिकार बन रहे हैं।............read more
http://hastakshep.com/?p=30451

फिर ना बन जाये शेहला काण्ड! 3 दिन से लापता आरटीआई कार्यकर्ता

Wednesday, March 13, 2013

तूफानों से आँख मिलाओ सैलाबों से हाथ मिलाओ

मार्क्स ने कहा था हम राजनीति के गुलामी से मुक्त हो सकते हैं पर आर्थिक गुलामी से मुक्त होने में हजारों वर्ष लग जायेंगे।..............read more
http://hastakshep.com/?p=30445
तूफानों से आँख मिलाओ सैलाबों से हाथ मिलाओ

सौ दिन से जारी धरने को हजार सलाम...

…सौ दिन से थाने में रात काटने वाले श्यामरुद्र पाठक जिस सवेरे के लिए लड़ रहे हैं उसका इंतजार 95 फीसदी भारतीयों को शिद्दत से है।.............................read more
http://hastakshep.com/?p=30440
सौ दिन से जारी धरने को हजार सलाम...

आम आदमी, हाथ और कमल सब जिन्दल के साथ क्योंकि हम जिन्दल साहब के देश में रहते हैं

 आप चाहे कांग्रेस को वोट दें या भाजपा को या भ्रष्टाचार मिटाने के नाम पर बनी नई आम आदमी पार्टी को वोट, जायेगा जिन्दल साहब की जेब में ही।
हम जिन्दल साहब के देश में रहते हैं।...................read more
http://hastakshep.com/?p=27314
आम आदमी, हाथ और कमल सब जिन्दल के साथ क्योंकि हम जिन्दल साहब के देश में रहते हैं

फ़ेसबुक से जाने वाले सकारात्मक संदेशों की हत्या, सही अर्थों में लोकतंत्र की हत्या होगी… | Hastakshep.com

फ़ेसबुक से जाने वाले सकारात्मक संदेशों की हत्या, सही अर्थों में लोकतंत्र की हत्या होगी… | Hastakshep.com

Tuesday, March 12, 2013

प्राचीन काल से ही ब्राह्मण "स्व-हित-रक्षक-बाज़ार-व्यवस्था" के पोषक रहे हैं


जन्म से लेकर मृत्यु तक ही नहीं बल्कि मृत्यु के बहुत बाद तक अपने हित-साधन की व्यवस्था कर लेने के इस ब्राह्मणी कौशल पर शर्म तो आती ही है, गुस्सा भी आता है।,...................read more
http://hastakshep.com/?p=30404

प्राचीन काल से ही ब्राह्मण "स्व-हित-रक्षक-बाज़ार-व्यवस्था" के पोषक रहे हैं

कटाक्ष : दस साल के एक देशद्रोही की कहानी | Hastakshep.com

 मेरे पड़ौसी के बच्चे ने तीन शेरों की जगह एक शेर बना कर हमारे राष्ट्रीय चिह्न का अपमान किया है. पुलिस जो देश की जनता के लिए ज़रुरत पर कभी उपलब्ध नहीं होती वह तुरंत मौके पर पहुँची और बच्चे को गिरफ्तार कर राष्ट्रद्रोह का मुक़द्दमा लगाती हुई बोली..............read more
http://hastakshep.com/?p=24571
कटाक्ष : दस साल के एक देशद्रोही की कहानी | Hastakshep.com

जिला पंचायत सदस्यों के अपहरण टेक्निकल एफआईआर हैं डीजीपी की नज़र में

 अगर मुख्यमन्त्री अखिलेश यादव की चली (?) तो कुछ ही दिनों में प्रदेश में नया पुलिस महानिदेशक  तैनात होगा।......................read more
http://hastakshep.com/?p=30409
जिला पंचायत सदस्यों के अपहरण टेक्निकल एफआईआर हैं डीजीपी की नज़र में

Monday, March 11, 2013

मोदी की शिक्षा युवराज के काम आयी ? आज बाँटेंगे लॉलीपॉप (लैपटॉप)


राजा-सामन्तों के लगे दाग धोने की कवायद में सरकार आज जोर-शोर से छात्रों को लैपटॉप बाँटने जा रही है।...........read more
http://hastakshep.com/?p=30392मोदी की शिक्षा युवराज के काम आयी ? आज बाँटेंगे लॉलीपॉप (लैपटॉप)

मार्क्सवाद तो पूर्णरूपेण भारतीय है

 जब खुराफात को साम्यवादी विद्वान ही धर्म की संज्ञा देंगे तब जनता तो उनके प्रति आकृष्ट होगी ही।.............read more
http://hastakshep.com/?p=27856
मार्क्सवाद तो पूर्णरूपेण भारतीय है

सवाल जनतान्त्रिक संस्थाओं की साख का


राजनीतिक दल इन संवैधानिक अभिकरणों की विश्वसनीयता को दाँव पर लगाकर अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं। उन्हें स्वस्थ परम्पराएं स्थापित करने का कोई ख्याल नहीं है.................read more
http://hastakshep.com/?p=30372

सवाल जनतान्त्रिक संस्थाओं की साख का

Sunday, March 10, 2013

बेहतर है टाइम्स नाउ के बैक ग्राउण्ड साउण्ड को मद्धम रखें अर्णब


.. भाजपा – काँग्रेस के बीच उन्होंने बना रखी है। भाजपा प्रवक्ताओं को वे बेलौस अपनी बात कहने का मौका और वक्त दोनों देते हैं लेकिन काँग्रेस प्रवक्ता को उनकी छेड़छाड़ विवशतः झेलना पड़ती है।..........................read more
http://hastakshep.com/?p=30370

बेहतर है टाइम्स नाउ के बैक ग्राउण्ड साउण्ड को मद्धम रखें अर्णब

भगवा चादर ओढ़ने को बेकरार मुलायम सिंह का स्वागत है


जब उन्होंने कल्याण सिंह से दोस्ती की थी तभी हमने कहा था कल्याण सिंह का रास्ता नागपुर जाता है। …और अब स्वयं मुलायम सिंह ने घोषणा कर दी है कि वह नागपुर घराने की चौखट पर सजदा कर रहे हैं।......................read more
http://hastakshep.com/?p=30069

भगवा चादर ओढ़ने को बेकरार मुलायम सिंह का स्वागत है

History became a weapon, sometimes double-edged


The politicians started using History by misrepresenting or distorting the facts to establish their points........................read more
http://hastakshep.com/?p=30382

History became a weapon, sometimes double-edged

वसुंधरा से कम अपनों की बेवफाई से ज्यादा दुखी हैं तिवाड़ी

 भगवान, हिन्दुस्तान की राजनीति में जितने भी भ्रष्ट नेता हैं उनकी जमानत जब्त करा दे, यह प्रार्थना पत्र दूँगा। भगवान को ही नहीं उनके दर्शन करने आने वाले भक्तों से भी कहूँगा कि राजस्थान को बचाओ। राजस्थान को चारागाह समझ रखा है।..............read more
http://hastakshep.com/?p=30386
वसुंधरा से कम अपनों की बेवफाई से ज्यादा दुखी हैं तिवाड़ी

भारत में राष्‍ट्रीय इंटरनेट रजिस्‍ट्री की शुरूआत

भारत में राष्‍ट्रीय इंटरनेट रजिस्‍ट्री की शुरूआत

हक़ीक़त निगारी जो ज़िन्दगी को मजऱ् में तब्दील कर दे किस काम की है


‘‘यार मेरी वजह से किसी के एज़ाज़ में इज़ाफा होता है तो फिर मुझे क्यों एतराज़ हो? जाहिर है कि हल्का का मेम्बर बनना मेरे लिये तो बाइसे इफि़्तख़ार नहीं। अगर मैं हल्का का मेम्बर बन जाता हूँ और मेरे मेम्बर बनने से हल्के का मर्तबा बढ़ जाता है तो फिर मुझे एतराज़ नहीं होना चाहिये।’’..............read more
http://hastakshep.com/?p=30357

हक़ीक़त निगारी जो ज़िन्दगी को मजऱ् में तब्दील कर दे किस काम की है

सवाल जनतान्त्रिक संस्थाओं की साख का


या जैसा कि जस्टिस काटजू के बारे में हमें लगता है कि वे हर समय वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम आने की धुन में लगे रहते हैं। अभिकरणों के बारे में रोज-रोज सवाल खड़े किये जायेंगे तो इनको स्थापित करने का मकसद कैसे पूरा होगा?..............read more
http://hastakshep.com/?p=30372

सवाल जनतान्त्रिक संस्थाओं की साख का

राजग का घर गिराने में जुटी काँग्रेस

भाजपा के भीष्म पितामह लाल कृष्ण अडवानी जी को उम्र के आखरी पड़ाव में यह महसूस होने लगा है कि देश की जनता का भाजपा से मोहभंग होने लगा है............read more
http://hastakshep.com/?p=30366
राजग का घर गिराने में जुटी काँग्रेस

Friday, March 8, 2013

अभी लड़ाई जारी है

‘ अब चलो नई शुरूआत करो! स्त्री मुक्ति की बात करो!!, ‘मजदूरों ने जान लिया है! हक लेना है ठान लिया है!!’..............read more
http://hastakshep.com/?p=30323
अभी लड़ाई जारी है

Our women are undoubtedly struggling

This means that that almost 75% of our women are malnourished, because a women would rather remain hungry herself than see her children hungry............readmore
http://hastakshep.com/?p=30316
Our women are undoubtedly struggling

वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम पहली बार राजनीतिक शून्यता को आईना दिखा रहे हैं।


अगर नरेन्द्र नरेन्द्र मोदी के बगैर चुनाव मैदान में है तो भारतीय जनता पार्टी और काँग्रेस के बीच कुछ ज्यादा फर्क दिखायी नहीं देता.........read more
http://hastakshep.com/?p=30337

वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम पहली बार राजनीतिक शून्यता को आईना दिखा रहे हैं।

बहस मरनी नहीं चाहिये शिंदे के भगवा आतंकवाद वक्तव्य पर


शिंदे के वक्तव्य और संघ व भाजपा की प्रतिक्रिया ने जो बहस छेड़ी है राष्ट्रीय स्तर पर इसकी आवश्यकता थी। इससे देश की सुरक्षा से जुड़े इस महत्वपूर्ण मुद्दे पर जनता में सकारात्मक समझ विकसित होने का अवसर मिलेगा।..............readmore
http://hastakshep.com/?p=30295

बहस मरनी नहीं चाहिये शिंदे के भगवा आतंकवाद वक्तव्य पर

“सुशासन” नहीं, “दु:शासन” का राज है बिहार में!

अभी जिन लोगों को नीतीश कुमार का राज “सुशासन” नज़र आ रहा है, उन्हें भी एक दिन ज़रूर यह समझ आ जायेगा कि राज “सुशासन” का नहीं, “दु:शासन” का था।............read more
http://hastakshep.com/?p=30307
“सुशासन” नहीं, “दु:शासन” का राज है बिहार में!

Thursday, March 7, 2013

क्रान्तिकारियों के प्रेरणास्रोत बने रहेंगे शावेज़


शावेज़ का चुनाव दुनिया का बेहतरीन लोकतान्त्रिक चुनाव था।.............read more
http://hastakshep.com/?p=30283

क्रान्तिकारियों के प्रेरणास्रोत बने रहेंगे शावेज़

आईसीयू में देश, सर धुन रहा है लोकतन्त्र

 भारत में कानून बनाने और उसमें संशोधन के परामर्श के लिये विधि आयोग का स्थायी कार्यालय है किन्तु विधि आयोग के समस्त पद एक सितम्बर 2012 से रिक्त होने वाले थे और  सरकार ने इन पदों पर अभी तक नियुक्तियाँ नहीं की हैं। और जब दिल्ली बलात्कार काण्ड के बाद जनता सड़कों पर उतरी तो इसके एवज में आनन-फानन में एक नई वर्मा कमेटी का गठन कर दिया। यह हमारी अपनी चुनी गयी सरकार की संजीदगी, संवेदनशीलता, जागरूकता और जनोन्मुखी होने का श्रेष्ठ नमूना है।...........read more
http://hastakshep.com/?p=30289
आईसीयू में देश, सर धुन रहा है लोकतन्त्र

आईसीयू में देश, सर धुन रहा है लोकतन्त्र

 भारत में कानून बनाने और उसमें संशोधन के परामर्श के लिये विधि आयोग का स्थायी कार्यालय है किन्तु विधि आयोग के समस्त पद एक सितम्बर 2012 से रिक्त होने वाले थे और  सरकार ने इन पदों पर अभी तक नियुक्तियाँ नहीं की हैं। और जब दिल्ली बलात्कार काण्ड के बाद जनता सड़कों पर उतरी तो इसके एवज में आनन-फानन में एक नई वर्मा कमेटी का गठन कर दिया। यह हमारी अपनी चुनी गयी सरकार की संजीदगी, संवेदनशीलता, जागरूकता और जनोन्मुखी होने का श्रेष्ठ नमूना है।...........read more
http://hastakshep.com/?p=30289
आईसीयू में देश, सर धुन रहा है लोकतन्त्र

हमारे शासकों के ये कुकृत्य किसी घोटाले से कम घातक नहीं


 नैटको ने अनिवार्य लाइसेंस देने की व्यवस्था का लाभ उठाते हुये ही कैंसर की उक्त दवा भारत में बना रही है, उसे 2,80,000 रुपये की जगह 8,880 रुपये में बेच रही है और आगे भी इसे सस्ते में मुहैया करायेगी। सरकार इस सम्भावना का भी गला घोंट देना चाहती है।.......read more
http://hastakshep.com/?p=30286

हमारे शासकों के ये कुकृत्य किसी घोटाले से कम घातक नहीं